पुणे। ।

 कप्तान स्टीवन स्मिथ (नाबाद 84) के कप्तानी की जिम्मेदारी से भरे अर्धशतक और अंतिम ओवर में जमाए गये दो शानदार छक्कों की बदौलत राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स ने मुंबई इंडियन्स को रोमांचक मुकाबले में गुरुवार को एक गेंद शेष रहते सात विकेट से हराकर आईपीएल 10 में अपने अभियान की शानदार शुरूआत की। स्मिथ ने 54 गेंदों में सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 84 रन ठोककर पुणे शानदार जीत दिला दी। 



मुंबई इंडियन्स ने आठ विकेट पर 184 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया जबकि पुणे ने 19.5 ओवर में तीन विकेट पर 187 रन बनाकर जीत हासिल कर ली। पुणे के लिये ओपनर अजिंक्या रहाणे ने 34 गेंदों में छह चौकों और तीन छक्कों की मदद से शानदार 60 रन बनाये। आईपीएल 10 के सबसे महंगे खिलाड़ी बेन स्टोक्स ने 21 रन और महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 12 रन का योगदान दिया। आस्ट्रेलिया के स्मिथ अपनी मैच विजयी पारी के लिये मैन ऑफ द मैच बने। मुंबई की ओर से टिम साउदी ने 34 रन पर एक विकेट, हार्दिक पांड्या ने 36 रन पर एक विकेट और मिशेल मैक्लेनगन ने 36 रन पर एक विकेट लिया। मुंबई को स्मिथ और धोनी को एक एक जीवनदान देना भी अंत में भारी पड़ गया। 



इससे पहले आलराउंडर हार्दिक पांड्या के नाबाद 35 और तेज गेंदबाज अशोक डिंडा के आखिरी ओवर में चार छक्कों सहित ठोके गये 30 रनों की बदौलत मुंबई इंडियंस ने राइजिंग पुणे सुपर जाएंट््स के खिलाफ आठ विकेट पर 184 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। मुंबई ने अपनी पारी की अंतिम सात गेंदों पर कुल 36 रन बटोरे जिसमें पांच छक्के शामिल थे। इनमें से चार छक्के तो पांड्या ने डिंडा के अंतिम ओवर में मारे। उन्होंने पहली तीन गेंदों पर छक्के, फिर चौका और छक्का लगाया। पांड्या ने मात्र 15 गेंदों पर नाबाद 35 रन में एक चौका और चार छक्के लगाये। ओपनर जोस बटलर ने 19 गेंदों पर तीन चौकों और तीन छक्कों की मदद से 38 रन ,नीतीश राणा ने 28 गेंदों में एक चौके और दो छक्के की मदद से 34 रन तथा कीरोन पोलार्ड ने 17 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के के सहारे 27 रन बनाये। पार्थिव पटेल ने 19 और अंबाटी रायुडू ने 10 रन का योगदान दिया। 



पुणे की टीम ने अंतिम समय में चोटिल मिशेल मार्श की जगह शामिल किये गये लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने चार ओवर में 28 रन देकर सर्वाधिक तीन विकेट लिये। ताहिर को नीलामी में नहीं खरीदा गया था, लेकिन उन्होंने टूर्नामेंट में उतरते हुए अपने पहले ही ओवर में पटेल का विकेट लिया और फिर अपने अगले ओवर में कप्तान रोहित शर्मा (तीन) और बटलर का विकेट भी झटक लिया। पटेल और रोहित बोल्ड हुए लेकिन बटलर दुर्भाग्यशाली रहे कि गेंद उनके बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर पैड से टकराई और ताहिर की अपील पर अंपायर ने उन्हें पगबाधा करार दिया। आलराउंडर रजत भाटिया ने रायुडू और क्रुणाल पांड्या के विकेट तीन ओवर में मात्र 14 रन देकर हासिल किये। 




पटेल और बटलर ने पहले विकेट के लिये 4.2 ओवर में 45 रन ठोक डाले लेकिन इसके बाद मुंबई ने लगातार विकेट गंवाये और उसकी रनगति धीमी पड़ गयी। पोलार्ड ने आकर थोड़ी रनगति बढ़ाई मगर 19 वें ओवर में उनके 146 के स्कोर पर आउट होने पर लग रहा था कि मुंबई की टीम 160 तक पहुंच पायेगी। ऐसे समय में 23 वर्षीय हार्दिक पांड्या का बल्ला जमकर बोला और उन्होंने आखिरी ओवर में 30 रन ठोककर मुंबई को 184 तक पहुंचा दिया। मुंबई ने अंतिम पांच ओवर में 64 रन बटोरे। डिंडा का आखिरी ओवर आईपीएल की एक पारी का सबसे मंहगा ओवर भी बन गया। डिंडा ने चार ओवर में 57 रन लुटाये।