दुबई। ।

भारतीय फुटबाल टीम के कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन ने कहा कि भारतीय टीम अगल वर्ष संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित होने वाले एफसी एशियन कप के नॉकआउट स्तर के लिए क्वालीफाई कर सकती है।



भारत को इस टूर्नामेंट में ग्रुप ए में रखा गया है। अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) की वेबसाइट ने कांस्टेनटाइन के हवाले से बताया, 'मेरा विचार में यह ऐसा ग्रप है जिहां से हम नॉकआउट स्तर के लिए क्वालीफाई कर सकते हैं। मैं यह नहीं कहूंगा कि हमारा ग्रप आसान है लेकिन हमारे पास कुछ टीमों को हराने की क्षमता है और अपने दिन पर कई टीमों को हरा सकते हैं।'



कांस्टेनटाइन ने कहा, 'इन में से हर टीम हमें अगल तरह की तकलीफ देगी और हमें एफसी एशियन कप 2019 में इनसे टकराने से पहले तैयार रहना होगा।'



टूर्नामेंट के ड्रॉ के दौरान समारोह में भारतीय कप्तान सुनील छेत्री भी मौजूद थे। सुनील छेत्री ने कहा, 'एफसी एशियन कप हमारे लिए बहुत बड़ा अवसर है और हम इसके लिए उत्सुक हैं। भारत में सभी लोग उत्सुक हैं और हमारे लिए सभी प्राथना कर रहे हैं। हम इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।'



समारोह के बाद एआईएफएफ की वेबसाइट ने छेत्री के हवाले से बताया, 'एफसी एशियन कप के कारण हमें एशिया की बेहतरीन टीमों एवं खिलाडिय़ों के खिलाफ खेलने का मौका मिलता है जिनमें से कुछ यूरोप एवं विश्व के विभिन्न लीग में खेलते हैं। यह टूर्नामेंट हमारी आंखे खोलने वाला होगा और इससे सीखने को भी बहुत कुछ मिलेगा। हमारा लक्ष्य दूसरी टीमों को कड़ी टक्कर देने का है।'



छेत्री ने कहा, 'मैं दोहा (2011) में इस टूर्नामेंट में भाग लेने वाली भारतीय टीम का हिस्सा था। आठ वर्षों के भीतर दूसरी बार एशियन कप के लिए क्वालीफाई करना भारतीय फुटबाल के लिए बहुत अच्छा है।' बता दें कि पूर्वोत्तर के कई खिलाड़ी भारतीय टीम का हिस्सा हैं।