नई दिल्‍ली। ।

टेलिकॉम इंडस्‍ट्री में रिलायंस जियो के धमाकेदार एंट्री लगभग 7 माहीने पहले हुई है। तब से कंपनी अपने कस्‍टमर्स को फ्री सर्विसेज दे रही है। इसके बाद से टेलिकॉम कंपनियों के बीच प्राइस वार जारी है। 


जियो की टक्‍कर में एयरटेल, आइडिया, वोडाफोन समेत अन्‍य टेलिकॉम कंपनियां अपने कस्‍टमर्स को लुभाने के लिए नए–नए ऑफर लॉन्च कर रही हैं। ये कंपनियां जियो के खिलाफ कानूनी लड़ाई भी लड़ रही हैं। इन्‍हीं दबाव के बीच ट्राई ने भी रिलायंस जियो को झटका देते हुए समर सरप्राइज ऑफर वापस लेने को कहा। लेकिन अब रिलायंस जियो जल्‍द ही अपने कस्‍टमर्स के लिए एक और सरप्राइज लेकर आने वाली है।


दरअसल, कंपनी कस्‍टमर्स को ब्रॉडबैंड और डीटीएच सर्विस देने की तैयारी में है। हालांकि कुछ दिनों पहले से ही जियो ब्रॉडबैंड नेटवर्क और डीटीएच सेवा के बारे में खबरें मीडिया में चल रही थीं। लेकिन अब कंपनी ने अपनी वेबसाइट पर इसकी जानकारी दी है।

पिछले दिनों रिलायंस इंडस्‍ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने यह बताया भी था कि कंपनी घरों के लिए रिलायंस जियो ब्रॉडबैंड फाइबर टू द होम (एफटीटीएच) की टेस्टिंग कर रही है। पुणे और मुंबई में होने वाली इस टेस्टिंग को रिलायंस जियो गीगाफाइबर के नाम से जाना जाएगा। ऐसे में इस पेशकश से यह जरूर कहा जा सकता है कि कंपनी इस सेक्‍टर में भी उतरने जा रही है।


ट्राई के आदेश के बाद रिलायंस जियो ने आधिकारिक तौर पर समर सरप्राइज ऑफर को वापस लेने का एलान तो कर दिया है लेकिन अब भी इसे यूज करने का मौका है। दरअसल, कंपनी की ओर से अब भी इस तरह के नोटिफिकेशन आ रहे हैं, जिसमें कहा जा रहा है कि आप अब भी जियो का समर सरप्राइज ऑफर हासिल कर सकते हैं।


नोटिफिकेशन में कहा जा रहा है कि, ट्राई ने जियो को अपना समर सरप्राइज ऑफर बंद करने को कहा है। आपके पास यह ऑफर हासिल करने का अब भी लिमिटेड टाइम है। अगर आप समर सरप्राइज ऑफर हासिल करना चाहते हैं तो आपके पास अब भी सीमित समय है।

कंपनी का कहना है कि समर सरप्राइज ऑफर को रातोंरात बंद नहीं किया जा सकता है। इसके मुताबिक, कंपनी को ट्राई के फैसले को लागू करने में थोड़ा वक्‍त लगेगा। एक अधिकारी के मुताबिक, आम तौर पर किसी ऑफर को पूरे सिस्‍टम में अपलोड करने की प्रक्रिया में 10 से 15 दिन का वक्‍त लगता है। ऐसे में इसे हटाने में भी थोड़ा वक्‍त लगेगा। इसलिए जब तक हम इसे हटा नहीं देते तब तक रीचार्ज करने वालों को यह ऑफर मिलता रहेगा।