नई दिल्ली। ।

बालों को काला करने के लिए बाजार में मिलने वाले डाई का यूज करने से इन्फेक्शन हो सकता है। इससे बचने के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद में असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. रमाकांत शर्मा चुलेट इन फूड को अप्लाय करने की सलाह देते हैं। इन चीजों को सात दिनों तक अप्लाय करने से बालों की सफेदी कम होती है और धीरे-धीरे बाल काले होने लगते हैं।


आंवले को पीसकर लोहे की कड़ाही में रात गला रहने दें। इसे सुबह बालों पर लगाने से सफेदी दूर होती है।

मसूर की दाल में आलू का रस मिलाकर बालों पर लगाने से बाल काले होते हैं।


पूदीने को पीसकर गुलाब जल में मिला लें। इसे लगाने से बालों का कालापन बना रहता है।

दही के साथ टमाटर को पीस लें। इसमें नींबू का रस मिलाकर लगाने से बाल काले रहते हैं।


नारियल तेज में दही मिलाकर लगाने से बालों को सफेदी कम होती है।


आंवले के टुकड़ों को नारियल तेज में उबाल लें। इसको रोज बालों पर लगाने से बालों का कालापन बना रहता है।

काले तिल को कुछ देर पानी में भिगो दें। इस पेस्ट को बालों में लगाने से बढ़ती उम्र में भी बाल सफेद नहीं होते।


ब्लैक टी को पानी में डालकर उबाल लें। इस बालों पर लगाकर रखने से बाल काले रहते हैं।

अदरक के रस में शहद मिलाकर बालों पर लगाने से सफेद बाल काले होने लगते हैं।


प्याज के रस को बालों की जड़ों में लगाने से बाल काले और घने होते हैं।